पाकिस्तान: मासूम जैनब के रेप और हत्या मामले में आरोपी इमरान अली को फांसी की सजा

लाहौर: पाकिस्तान के लाहौर में न्यायालय ने शनिवार को पंजाब प्रांत के कसूर शहर में हुए 7 साल की लड़की ज़ैनब के बलात्कार और हत्या के बहुचर्चित मामले में 2 माह के अंदर ही फैसला सुनाते आरोपी इमरान अली को मौत की सजा सुनाई है। कोर्ट ने इस मामले को बेहद संगीन माना और कहा कि बलात्कारी को चार बार मौत की सजा मिलनी चाहिए।

पंजाब प्रॉसीक्‍यूटर जनरल कादिर ने मीडिया को बताया, कोर्ट ने इमरान को अपहरण, रेप, हत्‍या के लिए धारा 7 के तहत सजा सुनाई है। इसके साथ ही नाबालिग के साथ अप्राकृतिक कृत्‍य के एवज में उसे आजीवन कैद के साथ एक मिलियन रुपये का जुर्माना देना होगा।

जियो टीवी के अनुसार, जैनब के पिता मोहम्‍मद आमिन ने बेटी के हत्‍यारे व रेपिस्‍ट की सजा के बाद राहत की सांस ली। जैनब के अंकल और भाई समेत कुल 56 प्रत्‍यक्षदर्शी ने इमरान के खिलाफ गवाही दी थी। प्रॉसीक्‍यूटर ने कोर्ट को सूचित किया कि फॉरेंसिक रिपोर्ट और पॉलिग्राफ टेस्‍ट ने यह साबित कर दिया कि इमरान ने जैनब की हत्‍या की थी।

पुलिस की जांच के अनुसार, अली जैनब को लेकर एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में गया और वहां उसने उसके साथ रेप के बाद उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद शव को उसने वहीं फेंक दिया था।

बुधवार को एटीसी में 9 घंटे लंबी सुनवाई चली जहां इमरान व तमाम गवाहों के बयान रिकार्ड किए गए। सात वर्षीय जैनब का अपहरण 4 जनवरी को कसूर में उसकी आंटी के घर के पास से हुआ था और पांच दिन बाद कचड़े में उसका शव मिला। 23 जनवरी को अधिकारियों ने सीरियल किलर इमरान को पकड़ लिया था।

इस घटना के बाद लोग सड़क पर उतर आए थे और तत्काल दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे, जिसके बाद तमाम जांच एजेंसियों ने इस मामले में दोषी की तलाश शुरू की।

मासूम जैनब को इंसाफ दिलाने के लिए पाकिस्तान की एक टीवी एंकर लाइव अपनी बच्ची को गोद में लेकर बैठी। उसने पूरे बुलेटिन बच्ची को गोद में लेकर पढ़ा। समा चैनल की इस एंकर का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ। इस वीडियो में वे एक मां के दर्द और डर को बयां करती नजर आईं।