कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए येदियुरप्‍पा को शाम तक मिल सकता है न्‍योता, कल लेंगे शपथ- सूत्र

कर्नाटक विधानसभा के नतीजे आने के बाद से ही सियासी मौहाल गर्म है. राजनितिक गलियारों में चर्चाओं का मौहाल जेठ की गर्मी से भी गर्म हो चूका है. ऐसे में सभी की कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला पर टिक गई हैं. राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और आनन-फानन में बने कांग्रेस व जेडीएस गठबंधन ने सरकार बनाने का दावा पेश किया है.

कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर बीजेपी उभरी है लेकिन 224 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा हासिल करने में विफल रही है. ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी की बैठक कर्नाटक के बेंगलुरु में बुलाई गई है. इस बैठक में सेक्रटरी केसी वेणुगोपाल और अन्य कांग्रेस विधायक पहुंचे.

मायावती ने सांसद अशोक सिद्धार्थ को बैंगलोर भेजा, BSP के इकलौते विधायक महेश को अपने साथ रखने को कहा है. महेश को बीजेपी के कुछ नेताओं ने संपर्क किया था

वहीं बीजेपी सूत्रों के अनुसार, शाम तक येदियुरप्‍पा को कर्नाटक में सरकार बनाने का न्‍योता मिल सकता है और वह कल शपथ लेगें.

वहीँ जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने कहा कि मुझे दोनों तरफ से ऑफर मिला है. मैं ऐसे ही नहीं कह रहा हूं मेरे पिता के करियर में काला धब्‍बा लगा क्‍योंकि मैं 2004 और 2005 में बीजेपी के साथ चला गया था. अब भगवान ने मुझे इस काले धब्‍बे को मिटाने का एक मौका दिया है. इसलिए मैं कांग्रेस के साथ जा रहा हूं.

साथ ही कुमार स्वामी ने कहा कि बीजेपी ने मेरी पार्टी के लोगों को 100 करोड़ रुपये कैश और कैबिनेट पोस्‍ट देने का वादा किया है. ऐसा पहली बार हुआ है जब कोई पार्टी विपक्ष को इस स्‍तर तक धमका रही है. जेडीएस के विधायक दल के नेता ने कहा कि बीजेपी को 104 सीटें मिली है इसका मतलब ये नहीं कि कर्नाटक के लोग बीजेपी को चाहते हैं.

वहीं बीजेपी के विधायक दल के नेता बीएस येदियुरप्‍पा ने राज्‍यपाल को विधायकों के समर्थन वाली चिट्ठी सौंपी दी है. बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, बताया जा रहा है कि निर्दलीय विधायक आर शंकर ने दिया बीजेपी को समर्थन दिया है.

कांग्रेस नेता एमबी पाटिल का दावा, हम सब साथ हैं और यह सब खबर गलत है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी के 6 विधायक हमारे संपर्क में है.

वहीँ सरकार बनाने को लेकर बीजेपी विधायक केएस ईश्वरप्पा ने कहा कि इसमें कोई शक ही नहीं है कि सरकार हम ही बनाएंगे. 100 प्रतिशत सरकार हम बनाएंगे. आप बस देखते जाइए. नतीजे कल ही आए हैं, अभी बस एक ही दिन बीता है.

दूसरी तरफ राज्यपाल वजूभाई वाला से कांग्रेस एवं जनता दल सेकुलर (जेडीएस) के नेताओं ने भेंट की और राज्य में जेडीएस की अगुवाई में सरकार गठन का दावा पेश किया.