नरेंद्र मोदी पीएम बन सकते हैं, तो राहुल पीएम क्यों नहीं बन सकते है: शिवसेना

पीएम मोदी जो एक बहुत सज्जन छवि वाले व्यक्ति है लेकिन उन्होंने अपनी छवि को बिगाड़ने पर तुले हुए है क्योंकि बीते दिन पहले कर्नाटक की रैली में पीएम मोदी ने कल कांग्रेस के नेता राहुल गांधी का मजाक बनाया था.लेकिन बीजेपी को सपोर्ट करने वाले सबसे बड़े हिन्दू संगठन शिवसेना ने भी अपना रंग दिखाया.

और पीएम मोदी को अपने शब्द रूपी तीर का निशाना बनाते हुए कहा यदि राहुल गांधी पीएम बनने के लिए अपनी इच्छा जाहिर की है तो इस बात पर मोदी जी का उनका मजाक बनाना शोभा नहीं देता. बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ने पीएम पर निशाना साधा है. शिवसेना ने कहा कि राहुल गांधी ने पीएम बनने की इच्छा जताई है तो इसका मजाक उड़ाना ठीक नहीं.

अगर राहुल परिवर्तन ला सकते हैं तो उन्हें पीएम बनना चाहिए. क्योंकि देश को एक युवा प्रधान मंत्री की जरूरत है जो देश को विकासशील से विकसित बना सके. शिवसेना के संजय राउत ने कहा, ”राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी के सबसे सक्रीय अध्यक्ष हैं, माना के उनके पास ज्यादा सपोर्ट और आंकड़े नहीं है लेकिन फिर वो कांग्रेस जैसी बड़ी पार्टी का अध्यक्षता हांसिल होना मजाक नहीं है.और उन्ही की सरकार ने भारत पर कई सालों तक बल्कि दशकों तक शासन किया है और देश को भी परिवर्तन की जरूरत है. “मैं (राहुल गांधी) प्रधानमंत्री बन सकता हूं. तो किसी और पार्टी को इसकी आलोचना करने और मजाक बनाने जरूरत नहीं है. ये लोकतंत्र है, एक सामान्य व्यक्ति को भी प्रधानमंत्री बनने का हक है. मोदी जी भी इसी प्रक्रिया के तहत प्रधानमंत्री बने हैं.”

कर्नाटक की रैली में मोदी ने राहुल पर बाल्टी से अटैक वाली कहानी सुनाई और कहा ”जिस गांव में पानी की किल्लत होती है और लोग तीन बजे टैंकर आएगा, इसका इंतजार करते हैं. और अपने घर चले जाते हैं, तभी गावं का सिरफिरा और दबंग यू यूं छाती करके निकलकर आता है. बाकियों की बाल्टी को दूर करके अपनी बाल्टी रख देता है.”

मोदी ने राहुल का नाम लेते हुए ”अचानक एक आ गया, से घोषित कर दिया बाकी कतार का जो होगा सो होगा. बाकी गठबंधन के दलों का जो होगा सो होगा. 40 साल से सीनियर नेता पड़े हैं उनका जो होगा सो होगा उसने आकर के अपनी बाल्टी रख दी, मैं प्रधानमंत्री बन जाऊंगा.”