मुझे खुशी है कि मैंने बीजेपी छोड़ दी है, बेशर्मी के साथ लोकतंत्र को मिटाने की कोशिश कर रही है बीजेपी:- यशवंत सिन्‍हा

कर्नाटक सरकार को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच बीजेपी विधायक दल के नेता बी एस येदियुरप्पा ने आज (गुरुवार को) मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. येदियुरप्पा की शपथ को लेकर सुप्रीम कोर्ट में रातभर चली कानूनी लड़ाई के बाद आखिरकार येद्दियुरप्पा ने तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. लेकिन अभी येद्दियुरप्पा को बहुमत साबित करना बाकी है.

इस सियासी घमासान के बीच पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने भी कर्नाटक मुद्दे पर टिप्पणी दी है. यशवंत सिन्हा ने इस मुद्दे पर एक ट्वीट करते हुए कहा कि अच्छा हुआ मैंने भाजपा छोड़ दी. इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि कर्नाटक में जो आज हो रहा है ये रिहर्सल है, और आने वाले 2019 के आम चुनाव के बाद भी वो ऐसा ही करेंगे.

यशवंत सिन्हा ने हाल ही में भारतीय जनता पार्टी छोड़ी है. पूर्व केंद्रीय मंत्री सिन्‍हा ने कर्नाटक में बीजेपी के सरकार बनाने के लिए कथित असंवैधानिक प्रयासों को लेकर ट्वीट के जरिये निशाना साधा है.

सिन्‍हा ने बीजेपी पर हमला करते हुए ट्वीट किया मुझे खुशी है कि मैंने पार्टी छोड़ दी है, जो इतनी बेशर्मी के साथ कर्नाटक में लोकतंत्र को मिटाने की कोशिश कर रही है. अगर यह लोग अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में बहुमत पाने में नाकाम होंगे तो यह यही काम फिर से करेंगे. कृपया मेरी चेतावनी को लिख लीजिए.

आपको बता दें कि जेडीएस और कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री पद के दावेदार एचडी कुमारस्वामी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि बीजेपी हमारे प्रत्येक विधायक को 100 करोड़ रुपए ऑफर कर रही है.

आपको बता दें कि इससे पहले आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने भी पीएम मोदी पर तंज़ कसते हुए कहा कि, देश नहीं बिकने दूंगा कह कर उसने 100-100 करोड़ में एक एक विधायक ख़रीद कर भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देने का जनता से वायदा किया. कुमारस्वामी के इस बयान के बाद से बयानबाज़ियों का दौर जारी है.