मोदी सरकार तीन और बड़ी कंपनियों निजीकरण करने जा रही है, पावर सेक्टर में इन कंपनियों की भी लगेगी बोली | Social Awaz

मोदी सरकार तीन और बड़ी कंपनियों निजीकरण करने जा रही है, पावर सेक्टर में इन कंपनियों की भी लगेगी बोली

केंद्र सरकार ने बुधवार (20 नवंबर) को सार्वजनिक क्षेत्र की तीन बड़ी कंपनियों के निजीकरण करने का फैसला किया है। इनमें सबसे अहम है पेट्रोलियम क्षेत्र की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) जो लंबे समय से घाटे में चल रही थी।

सरकार ने इसे बेचने का फैसला किया है। हालांकि, इस कंपनी के तहत आने वाली असम स्थित नुमालीगढ़ रिफायनरी लिमिटेड इस बिक्री योजना से बाहर होगी।

बीपीसीएल के अलावा मालवाहक कंपनी कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड और शिपिंग कंपनी शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड भी प्राइवेट हाथों में सौंपी जाएगी।

सरकार ने इन कंपनियों की रणनीतिक बिक्री के साथ-साथ मैनेजमेंट कंट्रोल भी निजी कंपनियों को देगी।

सरकार पावर सेक्टर की टिहरी हाइड्रो डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (टीएचडीसी) इंडिया लिमिटेड के 74.23 फीसदी हिस्सेदारी और नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कॉर्पोरेशन (NEEPCO) की सभी 100 फीसदी हिस्सेदारी सरकारी कंपनी नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन को बेचेगी।

आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति की बैठक के बाद मीडियाकर्मियों को जानकारी देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि CCEA ने प्रबंधन नियंत्रण को बनाए रखते हुए केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों (CPSEs) में सरकारी हिस्सेदारी 51 फीसदी से नीचे रखने की सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

Leave a Comment