EVM विवाद: माया बोली बसपा के दोनों मेयर इस्तीफ देंगे, बीजेपी अपने 14 मेयरों से इस्तीफा ले और वैलेट पेपर चुनाव करें

उत्तरप्रदेश में चुनाव चल रहे परिणामों को लेकर बसपा सुप्रीम मायावती ने एक एलान किया हैं की भाजपा की जीत में अगर EVM की भूमिका नहीं हैं तो बसपा की जीती हुई अलीगढ़ और मेरठ सहित 16 मेयर की शीटों पर वैलेट पेपर से वोटिंग कराये जाए इससे बीजेपी की सच्चाई खुद ही लोगो के सामने आ जाएगी प्रधान मंत्री के कथित विजन का भी पता लग जायेगा.

मायावती ने यूपी के सीएम आदित्यनाथ के बयान के ऊपर भी की टिप्पणी की जिसमे योगी से कहा था की अगर इबीएम से चुनाव करने पर भरोसा नहीं हैं तो बिलकुल सच्चाई के साथ बसपा के मेयर स्तीफा दे दें.

फिर वहां वैलेट पेपर से चुनाव कराया जाएगा इस पर टिप्पणी करते हुए बसपा के बड़े पदों पर बैठे नेताओं ने इस पर प्रतिक्रिया दी और कहा की चोरी करकर इलज़ाम पुलिस पर ही लगा दिया. मायावती ने कुछ बयान देते हुए कहा की इनकी अश्लियत यह हैं की 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के उत्तरप्रदेश के विधानसभा के चुनाव में भाजपा ने EVM के माध्यम से चुनाव में कुछ कारस्तानी करके जीत हासिल की केंद्र व उत्तरप्रदेश में बहुमत की सरकारें स्थापित की गई.

उनका यह कहना था की जिस तरह इनके चुनावी परिणाम सामने आतें हैं उस तरह इनके प्रदर्शन नहीं होते, कही नेता जो मेयर की कुर्सी पर बैठे हैं उनके भाषणों में तो जनता ही नहीं गयी फिर वह कैसे जीत सकतें हैं.

यूपी की 4 बार CM रही मायावती ने कहा की जिस राज्य में हर चुनाव EVM से कराया जाता हैं और मेयर का चुनाव भी EVM से ही कराया गया जिसमे इन्होने की धांधली वाज़ी, उन्होंने आरोप लगाकर कहा की भाजपा ने 16 में से 14 सीटें सिर्फ EVM की मदत से जीती हैं.

EVM की वज़ह से जीता चुनाव
मायावती कहती हैं भाजपा हर बार EVM की वजह से जीतती हैं अलीगढ और मेरठ में बीएसपी जीती क्योकि वहां की जनता का पूरा समर्थन बीएसपी को ही था वहां इनकी कोई धांधलेबाजी नहीं चल शक्ति थी वहां की जनता ने सामने रहकर यह चुनाव कराये थे.

बीएसपी के सबसे बड़े अधिकारी ने कहा की नगर-पालिका और नगर-पंचायत के चुनाव EVM की जगह वैलेट पेपर से हुआ वहां भी तो भाजपा की हार हुई थी जितनी बार EVM से चुनाव हुए हैं भाजपा ही जीती हैं और जितनी बार वैलेट पेपर से हुए भाजपा हारी हैं इससे साफ़ पता लगता हैं की भाजपा कुछ तो धांधली वाज़ी करती हैं भाजपा ने EVM मशीन का गलत उपयोग करके बीएसपी व अन्य सीटों को हराया हैं उन्होंने हाई कोर्ट में चुनाव दुबारा होने की अर्ज़ी भी दी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *