चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस की जबरजस्त जीत, भाजपा का सूपड़ा साफ़

मध्य प्रदेश में चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव के नतीजे आ गए हैं। कांग्रेस उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी ने बीजेपी के शकंर दयाल त्रिपाठी को 14,333 मतों से हरा दिया है। नीलांशु चतुर्वेदी को 668,10 और बीजेपी प्रत्याशी शंकर दयाल को 52,477 वोट मिले। शुरुआत से ही नीलांशु चतुर्वेदी आगे चल रहे थे और 19 राउंड की गिनती के बाद उन्होंने निर्णायक जीत दर्ज कर ली।

भाजपा पहले चरण में 527 वोटों के साथ आगे चल रही थी

भाजपा पहले चरण में 527 वोटों के साथ आगे चल रही थी। लेकिन उसके बाद से ही लगातार कांग्रेस बढ़त बनाए हुए है। इस दौरान दो एवीएम मशीन के खराब होने की बात सामने आई है। जिसके बाद दूसरे चरण के मतदान की गणना शुरू करने पर कांग्रेस ने आपत्ति ली.

इसके बाद जिला निर्वाचन अधिकारी के हस्‍तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ है। मुख्य मुकाबला कांग्रेस के नीलांशु चतुर्वेदी और भाजपा के शंकर दयाल त्रिपाठी के बीच है.

ज्यादा वोटिंग सत्तापक्ष के खिलाफ में माना जाता है

सतना जिले में आने वाले इस सीट के उपचुनाव के लिए हुए मतदान में वोटरों का उत्साह दिखा और 65 फीसदी से ज्यादा वोटरों ने मतदान किया। वोटिंग ज्यादा होने से बीजेपी खेमे में कुछ चिंता नजर आने लगी क्योंकि उपचुनाव में ज्यादा वोटिंग सत्तापक्ष के खिलाफ में माना जाता है। खासबात ये है कि सत्ताधारी भाजपा के लिए चित्रकूट सीट से मिथक जुड़ा है और वो यह है कि चित्रकूट में आज तक भाजपा का दूसरी बार जीत का सपना नहीं पूरा होना.

 

इस विधानसभा सीट पर 9 नवंबर को चुनाव हुए थे। यहां करीब 62 फीसदी वोटिंग हुई थी। यहां मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच ही था। बीजेपी हर कीमत पर इस सीट पर विजय चाहती थी लेकिन चुनाव परिणाम बीजेपी के लिए निराशाजनक साबित हुआ.